Home / Breaking News / एलएमआरसी ने किया मेट्रो का बैलेंस लोड टेस्ट

एलएमआरसी ने किया मेट्रो का बैलेंस लोड टेस्ट

  • मेट्रो में फरवरी से इस रूट पर कर सकेंगे सवारीIMG-20181228-WA0016

बिजनेस लिंक ब्यूरो
लखनऊ। इंतजार की घडिय़ां खत्म हुईं और बीते शुक्रवार की सुबह विश्वविद्यालय रूट पर मेट्रो दौड़ती हुई दिखाई पड़ी। चारबाग में केकेसी से लेकर हजरतगंज में केडी सिंह स्टेडियम तक मेट्रो सुरंग में दौड़ी। इसके बाद परिवर्तन चौक से होते हुए गोमती नदी पर बने स्पेशल स्पैन पर पहुंचीं। हालांकि यह लोड टेस्ट था, जो तीन दिन चला। इसी के साथ मेट्रो के एमडी कुमार केशव ने उम्मीद जताई है कि फरवरी में चारबाग से मुंशीपुलिया तक मेट्रो का कॉमर्शियल रन शुरू हो जाएगा। इसके लिए मेट्रो के एलीवेटेड ट्रैक पर लोड टेसिं्टग शुरू कर दी गई है।
जनता की उम्मीदों और सपनों पर खरा उतरने को प्रयासरत लखनऊ मेट्रो रेल कॉपरेरेशन ने उत्तर-दक्षिणी कॉरीडोर फेज-1ए के बैलेंस सेक्शन के वायडक्ट पुल का दो मेट्रो ट्रेनों द्वारा सफलतापूर्वक लोड टेस्ट भार परीक्षण किया। चौधरी चरण सिंह हवाईअड्डे से मुंशीपुलिया तक समग्र 22.878 किमी लंबे कॉरीडोर पर सार्वजनिक सेवा आरंभ करने की दिशा में अग्रसर लखनऊ मेट्रो के लिए यह एक और मील का पत्थर है। एलएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव द्वारा सुबह 6:30 बजे विधिवत पूजा अनुष्ठान के बाद चारबाग मेट्रो स्टेशन पर कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों और अभियंताओं की उपस्थिति में परीक्षण का आरंभ किया गया। लोड टेसिं्टग के लिए दो मेट्रो ट्रेन चारबाग से रवाना हुईं और गोमती नदी पर नवनिनिर्मित बैलेंस्ड कैंटीलीवर पुल पर पहुंचीं जहां यह पुल पर 24 घण्टे खड़ी रहेंगी। गोमती पुल पर लोड टेस्ट के बाद मेट्रो ट्रेनें आगे बढ़ेंगी और निशातगंज के निकट 60 मीटर लंबे स्पेशल स्टील स्पैन पर पहुंच पुन: 24 घण्टे खड़ी होंगी। स्पेशल स्टील स्पैन पर सभी परीक्षणों और आजमाइशों से गुजरने के बाद, मेट्रो ट्रेन 31 दिसंबर को वापस चारबाग पहुंचेंगी। एलएमआरसी के तरफ से उत्तर-दक्षिणी कॉरीडोर के बैलेंस सेक्शन पर सिग्नलिंग ट्रायल और समेकित परीक्षण के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं जिससे सरकार द्वारा तय समय- सीमा से पूर्व इसे जनता के लिए आरंभ किया जा सके।
बताते चले कि ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक करीब आठ किलोमीटर लंबे रूट पर मेट्रो एक साल पहले शुरू हो चुकी है। अब मेट्रो टांसपोर्ट नगर से आगे अमौसी एयरपोर्ट तक भी जाएगी। उसके लिए अमौसी तक नया ट्रैक बनाया गया है और चारबाग से आगे मुंशीपुलिया तक नया ट्रैक बनाया गया। इस रूट में चारबाग में केकेसी से लेकर हजरतगंज में केडी सिंह स्टेडियम तक का रूट अंडरग्राउंड है। उसके बाद आगे मुंशीपुलिया तक का रूट एलीवेटेड है।

मेट्रो टीम तय समय से पहले प्रोजेक्ट को पूरा करने की कोशिश कर रही है। पूरी उम्मीद है कि फरवरी में शहरवासी अमौसी से मुंशीपुलिया तक मेट्रो सफर कर सकेंगे। लोड टेस्ट के बाद रेल संरक्षा की हरी झंडी मिलते ही कॉमर्शियल रन शुरू होगा।
कुमार केशव, एमडी, लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन

About Editor

Check Also

2550

हाल-ए-एयर इंडिया :- पहले शिकायत सुनने में की आनाकानी, अब हो रही कागजी कार्रवाई

एयर इंडिया एक्सप्रेस के कस्टमर सपोर्ट सेल के अधिकारी जे. मोहन को यात्री ने उपलब्ध …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>