Home / Breaking News / यात्री सुविधाओं को परखेंगे सीएमआरएस

यात्री सुविधाओं को परखेंगे सीएमआरएस

  • हर एक पहलू के निरीक्षण के बाद मिलेगी क्लीयरेंस metro
  • प्रधान सलाहकार ई. श्रीधरन ने कहा फरवरी अंत में रेडी रहेगी मेट्रो

बिजनेस लिंक ब्यूरो
लखनऊ। लखनऊ मेट्रो का कामर्शियल ऑपरेशन शुरू होने से पहले रेल मेट्रो संरक्षा आयुक्त निरीक्षण करेंगे। यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह निरीक्षण किया जाएगा। 20 से 22 फरवरी के बीच 23 किमी फुल ट्रैक पर सीएमआरएस का निरीक्षण होगा। इस दौरान अफसर ट्रॉली व मेट्रो दोनों में बैठकर यात्री सुविधाओं को परखेंगे। गोमती नदी पर स्पैन, निशातगंज स्टील स्पैन और आइटी कॉलेज का कर्व देखेंगे। वहीं मेट्रो में सफर के दौरान यात्रियों से जुड़े हर एक पहलू का बारीकी से अध्ययन करेंगे। इसके अलावा स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं का जायजा लेने के बाद ही अपनी रिपोर्ट देंगे। एलएमआरसी ने तैयारियां तेज कर दी हैं। सीएमआरएस की चार सदस्यीय टीम फरवरी के दूसरे हफ्ते में लखनऊ आ रही है। सीएमआरएस एके जैन पूरे सेक्शन पर तकनीकी पहलुओं का अध्ययन करेंगे। इसमें सिग्नल, ट्रैक, भूमिगत स्टेशनों पर इमरजेंसी गेट, टनल, लाइन पैसेंजर के लिए सुरक्षित है या नहीं, टेलीकॉम सिस्टम के साथ ही मेट्रो संचालन के दौरान कम्यूनिकेशन बेस्ड ट्रेन कंट्रोल सिस्टम के हिसाब से चल रही है या नहीं। कुल मिलाकर मेट्रो यात्रियों के लिए कितनी सुरक्षित व आरामदायक है। मेट्रो अधिकारियों ने बताया कि स्टेशनों पर फिनिशिंग के काम को फाइनल टच दिया जा रहा है। 25 फरवरी तक सीएमआरएस से क्लीयरेंस मिलने के बाद मेट्रो को हरी झंडी देने के लिए प्रदेश सरकार से अनुमति ली जाएगी। माना जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव की अधिसूचना से पहले लखनऊ की जनता को मेट्रो का तोहफा मिलना तय है।

निरीक्षण से पहले एमडी ने देखी कार्यप्रगति
एयरपोर्ट से मुंशीपुलिया तक मेट्रो चलाने के लिए एलएमआरसी ने पूरी तैयारी कर ली है। उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर फेज 1 के बैलेंस सेक्शन के अंतर्गत आने वाले मेट्रो स्टेशनों की अंतिम चरण की तैयारियां जोरों पर हैं। मेट्रो स्टेशनों पर लिफ्ट्स और एस्कलेटर्स स्वचालित सीढिय़ां लगाईं जा चुकी हैं। इनका लगातार परीक्षण किया जा रहा है। मेट्रो स्टेशनों पर पब्लिक अनाउंसमेन्ट सिस्टम और साइनेज यात्रियों हेतु जरूरी दिशा-निर्देश स्थापित किए जा चुके हैं। निरीक्षण के दौरान एमडी ने मेट्रो इंजीनियरों और ठेकेदारों को विशेष रूप से निर्देश देते हुए केडी सिंह और मुंशीपुलिया मेट्रो स्टेशनों के बीच यातायात के लिए सड़क मार्ग को जल्द से जल्द पूरी तरह से सुगम बनाने के लिए कहा। इससे शहरवासियों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

फरवरी अंत तक शुरू होगा कामर्शियल रन
श्रीधरन ने बताया हालांकि राज्य सरकार को इसके उद्घाटन का समय तय करना है। मगर एलएमआरसी फरवरी अंत तक सारी औपरचारिकताओं को पूरा कर लेगी। मुख्य रूप से सीएमआरएस को फाइनल परीक्षण करना है। अभी कमिश्नर विदेश दौरे पर हैं। 20-22 फरवरी तक सीएमआरएस का परीक्षण हो सकता है। तीन दिन तक ट्रायल होने के 24 घंटे बाद कामर्शियल रन हो सकेगा। सीआरएस अनुमति के लिए मेट्रो ट्रेन को कई मानकों पर खरा उतरना होगा। इसमें सेफ्टी, मेट्रो ट्रेन व सिग्नलिंग का परीक्षण होगा।

स्टेशनों पर देखी कार्य प्रगति
मेट्रो प्रोजेक्ट की कार्य प्रगति की समीक्षा करने पहुंचे एलएमआरसी के प्रधान सलाहकार ने एयरपोर्ट मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण किया। इसके बाद बापू भवन, हजरतगंज भूमिगत मेट्रो स्टेशन को देखा। फिर लेखराज व एचएएल मेट्रो स्टेशन को बाहर से देखने के बाद मुंशीपुलिया स्टेशन को करीब से निरीक्षण किया। प्रबंध निदेशक कुमार केशव व अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। सीएमआरएस के ट्रायल से पहले एक तरफ के प्रवेश व निकास द्वार को फिनिश करने के निर्देश दिए। गोमती नगर स्थित मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के कार्यालय में एलएमआरसी के अधिकारियों के साथ बैठक कर अंतिम कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए।

निगरानी के लिए लग रहे सीसीटीवी
मेट्रो यात्रियों की सुरक्षा और सहूलियत को ध्यान में रखते हुए स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। ये सभी कैमरे सीधे ट्रांसपोर्ट नगर मेट्रो डिपो स्थित ऑपरेशन्स कंट्रोल सेन्टर ओसीसी से जुड़े होंगे।

About Editor

Check Also

nagar-bnigam-1458652949

बगैर लाइसेंस शुल्क चल रहे चिकित्सा प्रतिष्ठान

अस्पताल, नर्सिंग होम, डायग्नोस्टिक सेंटर और ब्लड बैंकों पर नगर निगम मेहरबान लखनऊ। नगर निगम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>