Home / उत्तर प्रदेश / राजधानी में बनेगा खेल विश्वविद्यालय

राजधानी में बनेगा खेल विश्वविद्यालय

मुख्यमंत्री ने दिये निर्देश, विश्वविद्यालय स्थापना के लिये तैयार की जाय व्यापक कार्य योजना

सैफई स्पोट्र्स कॉलेज का नाम अब होगा मेजर ध्यान चन्द्र स्पोट्र्स कॉलेज

खेलों के प्रति श्रमिकों के बच्चों को आकॢषत करने के लिये कानपुर-वाराणसी में स्थापित होंगे खेल कॉलेज

शारीरिक शिक्षा के साथ योग शिक्षा को जोडऩे के लिये कार्य योजना

जूनियर फुटबॉल विश्वकप-2017 के दृष्टिगत प्रदेश के 32 जनपदों में फुटबॉल खेल को दिया जायेगा बढ़ावा

खेल विभाग के प्रस्तुतिकरण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा, अन्तर्राष्ट्रीय खेलों में पदक विजेताओं को राजपत्रित पदों पर दी जाय नियुक्ति

बिजनेस लिंक ब्यूरोyogi copy

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में सरकारी एवं निजी भागीदारी से आधुनिक सुविधाओं से लैस स्पोट्र्स विश्वविद्यालय की स्थापना के लिये व्यापक कार्य तैयार करने के निर्देश दिये हैं। साथ ही सैफई स्पोट्र्स कॉलेज का नाम मेजर ध्यान चन्द्र स्पोट्र्स कॉलेज करने के लिये विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया है। श्रमिकों के बच्चों में खेलों के प्रति रुझान पैदा करने एवं प्रोत्साहित करने के लिए कानपुर एवं वाराणसी में खेल कॉलेजों की स्थापना करने और युवाओं को स्वस्थ रहने के लिये शारीरिक शिक्षा के साथ-साथ योग शिक्षा को भी जोडऩे के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये हैं।

बीते सप्ताह खेल विभाग के प्रस्तुतिकरण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के 06 वर्ष से 18 वर्ष आयु के सभी बालक-बालिकाओं को उनकी रुचि के अनुसार किसी न किसी खेल से जोडऩे के लिये विद्यालयों में खेल कक्षाओं को बढ़ाया जाय। मुख्यमंत्री ने कहा जूनियर फुटबॉल विश्वकप 2017 को ध्यान में रखते हुये प्रदेश के चिन्हित 32 जनपदों में फुटबॉल खेल को प्रोत्साहित किया जाय। ग्रामीण बच्चों को खेलों में प्रति प्रोत्साहित करने के लिये कबड्डी, कुश्ती, वॉलीबाल, फुटबाल सहित अन्य खेलों में प्रशिक्षण दिलाए जाने के साथ-साथ ब्लॉक स्तर पर खेल प्रतियोगितायें आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने आवासीय क्रीड़ा छात्रावासों में प्रशिक्षणार्थी खिलाडिय़ो को उपलब्ध कराए जा रहे नि:शुल्क भोजन की शुद्धता एवं पौष्टिकता पर विशेष ध्यान रखने पर बल दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय खेलों यथा ओलम्पिक गेम्स, विश्व चैम्पियनशिप, एशियन गेम्स व कॉमनवेल्थ गेम्स में उत्तर प्रदेश के पदक विजेता मूल निवासियों को प्रदेश के विभिन्न चिन्हित 11 विभागों के अन्तर्गत राजपत्रित पदों पर सीधी भर्ती के माध्यम से नियुक्ति सम्बन्धी आवेदनों का प्राथमिकता से निस्तारण कराकर नौकरी दी जाए। दिव्यांग खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन राशि प्रदान करने के लिये योजना बनाने और खेल कोटे से विभिन्न विभागों में तैनात होने वाले अधिकारियों को छात्रों को प्रशिक्षण दिलाने के लिये प्रशिक्षण स्थलों में कोच तैनात करने को कहा है। जनपद गौतमबुद्ध नगर में कुश्ती, वेट लिफ्टिंग हॉल, कबड्डी, वॉलीबॉल, बास्केटबॉल एवं बॉक्सिंग खेलों से जुड़े निर्माण कार्य को आगामी अक्टूबर 2017 तक पूर्ण कराने के निर्देश दिए।

सैफई जनपद इटावा में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के निर्माणाधीन तरणताल एवं क्रिकेट स्टेडियम के अवशेष कार्यों को भी प्राथमिकता से निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूरा कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्मित खेल भवनों का प्रयोग खिलाडिय़ों के लिए ही कराने के लिये समय-समय पर मॉनीटरिंग अवश्य की जाय। मुख्यमंत्री ने निर्माण कार्यों में अनावश्यक रूप से विलम्ब होने के कारण निर्माण लागत में वृद्धि होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए कि कोई भी निर्माण कार्य बगैर विस्तृत परियोजना रिपोर्ट के बिना प्रारम्भ न किया जाय। डीपीआर का परीक्षण भी टेक्निकल यूनिट द्वारा कराया जाय। निर्माण कार्यों की डीपीआर की टेक्निकल जांच के लिये मुख्यालय पर टेक्निकल कमेटियां गठित की जाय।

मुख्यमंत्री ने कहा निर्धारित तिथि पर निर्माण कार्य पूर्ण न होने की स्थिति पर निर्माण लागत बढऩा राजस्व की क्षति है। इसलिये निर्माण कार्यों की लागत बढऩे पर सम्बन्धित अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाय। मुख्यमंत्री ने जनपद फैजाबाद में निर्मित अन्तर्राष्ट्रीय क्रीड़ा संकुल का निर्माण कार्य मार्च 2018, मिनी स्टेडियम विजयन्त खण्ड गोमतीनगर लखनऊ में एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान का निर्माण कार्य जून 2017, वीर बहादुर सिंह स्पोट्र्स कॉलेज गोरखपुर में एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान व कुश्ती हाल का निर्माण जुलाई 2017 तक पूरा कराने के निर्देश दिये हैं।

About Editor

Check Also

electric bus copy

चार्जिंग प्वाइंट ही नहीं तैयार तो कैसे चलें इलेक्ट्रिक बसें

चार्जिंग प्वाइंट न बनने से देवा रोड टाटा मोटर्स वर्कशाप में खड़ी हैं 11 इलेक्ट्रिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>