Home / Breaking News / नए साल में दिखने लगेंगे स्मार्ट सिटी के काम

नए साल में दिखने लगेंगे स्मार्ट सिटी के काम

  • 554 लाख में हो रहे 19 कामsmart city
  • ट्रैफिक की जानकारी के लिए लेंगे मास्टर सिस्टम इंटीग्रेटर

बिजनेस लिंक ब्यूरो
लखनऊ। शहर में स्मार्ट सिटी योजना के काम नए साल में दिखने लगेंगे। पैन सिटी के तहत 19 काम कराए जा रहे हैं। कुछ काम दिसंबर 2018 से अगले साल दिसंबर 2019 तक पूरे होंगे तो कुछ मार्च व मई 2019 तक पूरे होंगे। स्मार्ट सिटी योजना में पैन सिटी के तहत 554.33 लाख में 19 काम शामिल हैं। नए साल में इनमें से 75 फीसदी काम पूरे जाएंगे। टै्रफिक की जानकारी देने के लिए मास्टर सिस्टम इंटीग्रेटर (एमएसआई) लगाए जाएंगे। शहर के प्रमुख चौराहों व व्यस्त मार्गों पर लगाई जाने वाली डिजिटल स्क्रीन की मदद से सड़क से टै्रफिक व्यवस्था की जानकारी मिलेगी।
स्मार्ट सिटी योजना के तहत यह स्क्रीन लगाई जाएगी। लखनऊ स्मार्ट सिटी लिमिटेड के एसीईओ व नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी ने स्मार्ट सिटी योजना की जानकारी दी। बताया जिन स्थानों पर यह स्क्रीन लगी होगी वहां से गुजरने वालों को चार तरह की सूचनाएं मिलेंगी। इनमें सबसे खास सूचना ट्रैफिक व्यवस्था की रहेगी, जिसके माध्यम से वाहन चालकों को सड़क पर आगे लगे ट्रैफिक जाम होने के बारे में पता चल जाएगा। पहले चरण में जिन 20 स्थलों का चयन किया गया है, उन स्थलों पर 30 अप्रैल 2019 तक बोर्ड लग जाएंगे। इसके लिए बीएन रोड पर कमांड सेंटर भवन बनाया जा रहा है। यहां से पूरे शहर का टै्रफिक सिस्टम कंट्रोल किया जाएगा। जीएम एसके जैन के अनुसार एमएसआई बोर्ड के माध्यम से लाइव ट्रैफिक अपडेट, मौसम का अनुमान, प्रदूषण की स्थिति और लेटेस्ट इंफॉरमेशन दिया जाना है। शहर के ऐतिहासिक स्थल की जानकारी यहां से मिल सकेगी। हजरतगंज, 1090 चौराहा, महानगर, आलमबाग आदि चौराहों व मार्गों पर यह बोर्ड लगेंगे।

स्वीपिंग मशीनों से होगी सफाई
स्वच्छ भारत मिशन के तहत 20 काम्पेक्टर व 2 मैकेनिकल स्वीपिंग मशीन खरीदीं जाएंगी। इसके जरिए प्रमुख सड़क मार्ग का मैकेनिकल सफाई होगी। यह मशीन धूल के साथ ही ईट-पत्थर आदि सख्त कचरे को भी शक कर लेगा। इसके लिए 18.40 लाख खर्च होंगे। यह काम अप्रैल 2019 तक होंगे पूरे अंवतीबाई व बलरामपुर अस्पताल में वेस्ट वाटर सिस्टम लग रहे हैं। 6.12 लाख से यह काम मार्च 2019 तक पूरे होंगे। 1.56 लाख एलईडी स्ट्रीट लाइटें लगाईं गईं हैं। कैसरबाग चौराहे का सौंदर्यीकरण कराया जा रहा है। पूरे कैसरबाग क्षेत्र में पाइप नेचुरल गैस बिछायी जाएगी। मार्च 2019 तक यह काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके अलावा मोबाइल एप सूट तैयार हो चुका है। नए साल से यह काम करना शुरू कर देगा। कैसरबाग में सामुदायिक सुविधा केंद्र, मछली मंडी में स्मार्ट पार्किंग व स्मार्ट मीटरिंग-इलेक्ट्रिसिटी के कामी अप्रैल 2019 तक पूरे हो जाएंगे। ऐतिहासिक इमारतों में छतर मंजिल, दर्शन बिलास कोठी, कोठी गुलिस्तान-ए-इरम का सौंदर्यीकरण होना है। संस्कृति निदेशालय से एनओसी न मिलने पर काम रूका हुआ है। दिसंबर 2019 तक काम पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। डालीगंज में बुद्धा पार्क से सूरज कुंड पार्क तक करीब 400 मीटर रोड स्मार्ट रोड के तौर पर बनेगी। 6.68 लाख में यह काम मई 2019 तक पूरा होगा। पीडब्लूडी से एनओसी के बाद काम शुरू होगा।

छह पार्कों में फ्री वाई-फाई की सुविधा शुरू 
छह पार्कों में फ्री वाई-फाई की सुविधा शुरू हो गई है। झंडे वाला पार्क, शहीद स्मारक, बेगम हजरत महल पार्क, गोमती रिवर फ्रंट, दयानिधान पार्क में सुविधा मिल रही है। आईसीटी फॉर सिटी बस सर्विसेज की सुविधा भी शहर में मिलेगी। 6.62 लाख की लागत से स्मार्ट बस शेल्टर स्थापित होंगे। आलमबाग रोड पर पहले 7 बस शेल्टर स्मार्ट होंगे। गोमती रिवर फं्रट का काम भी स्मार्ट योजना में शामिल किया गया है।

आईटीएमएस मई तक तैयार होगा
आईटीएमएस, इंटीग्रेटड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम का काम मई 2019 में पूरा हो जाएगा। चौराहों पर आधुनिक सीसीटीवी लगाए जाएंगे। जिनकी मदद से ट्रैफिक नियमों का उल्लघंन करने पर वाहन चालक को ई-चालान हो सकेगा। 110 चौराहों में से अभी हजरतगंज व इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान चौराहे पर यह कैमरे लगेंगे। इस योजना पर 78 करोड़ रुपए खर्च होगा। हालांकि अभी पूर्ण रूप से काम नहीं शुरू हो सका है।

सिटी ब्रांडिंग में दे सहयोग
सिटी ब्रांडिंग के लिए शहर की दीवारों को खूबसूरत रंग दिया जा रहा है। सरोजनी नगर एरिया में कुंभ से जुड़े चित्र पेंट किए गए हैं। कलर माई सिटी योजना के तहत कोई भी अपनी थीम के तहत दीवारों को पेंट कर सकता है। इसके लिए किसी दीवार को गोद लेना होगा। उसे अपनी पंसद के रंग भरवाकर उसे खूबूसूरत कर सकता है। इसके लिए लोगों को नगर निगम में पैसा जमा करना होगा। फिर नगर निगम दीवार पर बनायी जाने वाली डिजाइन देगा। इसे ही बना सकेंगे। नगर आयुक्त ने बताया लखनऊ विश्वविद्यालय, शहीद स्मारक तथा चारबाग रेलवे स्टेशन की इमारत पर फसाड लाइट लगेगी। झण्डी वाले तथा दयानिधान पार्क में ओपेन जिम भी बनाए जाएंगे।

About Editor

Check Also

rani bus copy

परवान नहीं चढ़ पा रही इलेक्ट्रिक बसों की सवारी

स्टॉपेज और टाइमिंग की जानकारी न होने से परेशान हो रहे यात्री किराया अधिक होने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>