Breaking News
Home / अंतरराष्ट्रीय / उत्तर प्रदेश / फरियादियों ने अफसरों को लगाई फटकार

फरियादियों ने अफसरों को लगाई फटकार

शिकायतों की स्थिति देख अफसर लगा रहे एलडीए के भ्रष्टाचार का अंदाजा

प्राधिकरण दिवस में एक-दूसरे को देखते रहे अधिकारी

LDAबिजनेस लिंक ब्यूरो

लखनऊ। लखनऊ विकास प्राधिकरण किस तरह भ्रष्टाचार में आकंठ डूबा है, इसकी बानगी प्राधिकरण दिवस पर नये अफसरों ने देखी। अपनी समस्याओं के समाधान के लिए ऐसे भी फरियादी प्राधिकरण दिवस में पहुंचे जो दशकों से अपनी शिकायतें कर रहे हैं। कईयों को मकान नहीं मिला, तो कई वर्षों से भूखंड न मिलने के लिये परेशान हैं। इतना ही नहीं कई ऐसे फरियादी भी पहुंचे जिनका प्लाट अथवा फ्लैट दूसरों को कब बेच दिया गया उन्हें पता नहीं चला। कुछ फरियादियों ने तो अधिकारियों को ही फटकार लगाना शुरू कर दिया। नई सरकार के पहले प्राधिकरण दिवस पर अधिकारी असहज दिखे और फरियादियों के प्रश्नों पर बगले झांकने लगे।

लखनऊ विकास प्राधिकरण के नये उपाध्यक्ष प्रभु एन सिंह की अनुपस्थिति में नई सरकार का पहले प्राधिकरण दिवस की अध्यक्षता नये सचिव जयशंकर दुबे ने की। उनके साथ अपर सचिव सीमा सिंह, मुख्य अभियंता ओपी मिश्रा सहित कई अधिकारी मौजूद रहे। प्राधिकरण दिवस में सभी विभागों के स्टाल लगाए गए थे, ताकि सभी का कार्य मौके पर ही निस्तारित हो जाए। लेकिन पहले दिन जिस तरह की शिकायतें आई उससे अधिकारी असहज दिखे। जानकीपुरम निवासी रजनी सक्सेना ने शिकायत की कि उन्होंने 2003 में जमीन खरीदी थी, लेकिन आज तक उस जमीन पर एक दबंग किसान का कब्जा है। यही नहीं संबंधित जमीन के आस-पास भी तमाम लोगों ने एलडीए से जमीन खरीदी थी, जिसको भी किसान ने कब्जा कर रखा है। 14 वर्ष से लड़ाई लड़ी जा रही है, लेकिन अभी तक सुनवाई नहीं हुई।

इसी तरह से गोमतीनगर विस्तार, विपुल खंड, विशालखंड से शिकायतें आई कि आज तक एलडीए उन्हें फ्लैट मुहैया नहीं करा सका। विगत वर्षों में हुए भ्रष्टाचार को लेकर भी खूब शिकायतें आई, जिसका जवाब स्वयं अफसर भी नहीं दे सके। फिलहाल प्राधिकरण दिवस पर जिस तरह से फरियादियां हल्ला मचाया उसे देख अफसर असहज दिखे। चर्चा यहां तक होने लगी कि विगत वर्ष में एलडीए में सिर्फ भ्रष्टïाचार हुआ है।

वीसी को करनी होगी कार्रवाई
प्राधिकरण दिवस पर एलडीए में जो हालात देखने को मिले उससे तो यही लगता है कि एलडीए वीसी को तगड़ी कार्रवाई करनी होगी। सिर्फ भ्रष्टाचार रोकने भर से काम नहीं होगा। शिकायत करने आए करीब आधा सैकड़ों लोगों से जो फीडवैक सामने आया उससे यह नहीं लगता कि बिना कार्रवाई के कोई काम चलेगा।

आवास आयुक्त ने स्वयं सुनी आवंटियों की फरियाद
आवास विकास परिषद मुख्यालय में आवास आयुक्त धीरज साहू ने फरियादियों की समस्यायें स्वयं सुनी। इस दौरान कुल 11 शिकायते आई। आयुक्त धीरज साहू ने सभी फरियादियों की समस्याएं नोट की। इस दौरान उन्होंने मुलाजिमों को आदेश भी दिए कि जल्द से जल्द समस्याओं को निस्तारित किया जाय। आवास दिवस में जो शिकायतें आई उनमे से ज्यादातर मामला आवंटन और कब्जे से संबंधित है। इस दौरान कई ऐसे फरियादी भी आए जो वर्षों से परिषद के चक्कर लगा रहे हैं। ऐसी स्थिति में आवास आयुक्त ने निर्देश दिये कि जो भी शिकायतें आई हैं उसका इस तरह से निस्तारण हो कि आवंटी को दोबारा न आना पड़े। आवास आयुक्त की मौजूदगी में संपन्न हुये फरियादी दिवस में सकारात्मक असर दिखा। चर्चा है कि आवास आयुक्त शिकायतों के निस्तारण के लिए नई गाइडलाइन भी जारी कर सकते हैं। इस मौके पर मुख्य अभियंता मो. सलीम, संयुक्त आयुक्त अनिल यादव सहित अन्य अफसर मौजूद रहे।

About Editor

Check Also

jafar

विशेष सीबीआई अदालत के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देगा मुस्लिम पक्ष : जिलानी

लखनऊ। आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वरिष्ठ सदस्य एवं अधिवक्ता जफरयाब जिलानी ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>