Home / बिज़नेस / इंडस्ट्री / दूसरी ग्राउण्ड बेक्रिंग सेरेमनी में 158 परियोजनाएं चयनित

दूसरी ग्राउण्ड बेक्रिंग सेरेमनी में 158 परियोजनाएं चयनित

  • द्वितीय ग्राउण्ड बेक्रिंग सेरेमनी के लिये एक लाख करोड़ रुपये लागत की 158 परियोजनाएं चयनित
  • दो-तीन नवम्बर को लखनऊ में होगी उच्च स्तरीय बैठक
  • हैण्डीक्राफ्ट, फाइनेन्शियल बैकिंग, डाटा सेन्टर तथा रिटेल से जुड़ी पॉलिसी बनाने की होगी कार्यवाही
  • यूपीएसआईडीसी पहली ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी की परियोजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति से अवगत कराने के निर्देश

बिजनेस लिंक ब्यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव एवं अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त डॉ.अनूप चन्द्र पाण्डेय ने फरवरी 2018 में सम्पन्न हुई इन्वेस्टर्स समिट में हुये एमओयू में से द्वितीय ग्राउण्ड बे्रकिंग सेरेमनी के लिये एक लाख करोड़ रुपये लागत की चयनित 158 परियोजनाओं की स्थापना के लिये युद्ध स्तर तैयारी करने के निर्देश दिये हैं। दूसरी ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी दो-तीन नवंबर को लखनऊ में होगी। अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वो निवेशकों से मिलें और अगर उनकी कोई समस्या है तो उसका हल करे। विभागीय अधिकारियों से कहा गया है कि वे निवेशकों को विभागीय स्वीकृतियां समय पर दिलायें ताकि उन्हें कोई दिक्कत न हो। अधिकारी पहले चरण में शुरू की गयी परियोजनाओं के निर्माण कार्यों का निरीक्षण करें और निवेशकों की समस्याओं के निदान के लिए विशेष अभियान चलायें।

मुख्य सचिव ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे आगामी दो व तीन नवम्बर को लखनऊ में ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी के लिये चयनित निवेशकों, उद्योगपतियों एवं उद्यमियों की उच्च स्तरीय बैठक बुलाकर उनकी समस्याओं का समाधान करें जिससे उनको उद्योग स्थापित करने में कोई बाधा न आए। इस बैठक में चयनित परियोजनाओं के संबधिंत अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों एवं सचिवों को भी आमंत्रित किया जाए। मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि हैण्डीक्राफ्ट, फाइनेन्शियल बैकिंग, डाटा सेन्टर तथा रिटेल से जुड़ी पॉलिसी के बनाने के सम्बन्ध में तत्काल कार्यवाही की जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि निवेशकों को उद्योग स्थापना के संबंध में लेटर ऑफ कम्फ्र्ट तथा आवश्यक विभागीय स्वीकृतियां समय से उपलब्ध करा दी जाएं।

परियोजना से जुड़े सभी विभागों को निर्देश दिये गये हैं कि वे एमओयू ट्रैकिंग पोर्टल को अपडेट करें जिससे निवेशकों को अपने परियोजनाओं के संबंध में अद्यतन जानकारी उपलब्ध हो सके। डॉ. पाण्डेय ने निर्देश दिये कि प्रथम ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी में जो परियोजनाएं निवेशकों द्वारा लगाई जा रही हैं उनके निर्माण कार्यों की स्थलीय प्रगति के लिये उत्तर प्रदेश औद्योगिक विकास निगम के अधिकारियों द्वारा विशेष अभियान चलाकर संबंधित समस्यायें दूर कराई जाय।

ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी को विपक्ष ने बताया नौटंकी
सरकार की दूसरी ग्राउण्ड ब्रेङ्क्षकग सेरेमनी प्रस्तावित है। इससे पहले राज्य सरकार जुलाई में 60 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाएं शुरू कर चुकी है। दूसरे चरण में जिन परियोजनाओं की शुरुआत होनी है। इनके एमओयू फरवरी में इन्वेस्टर्स समिट के दौरान हुए थे। सरकार भले ही इसे बड़ी कामयाबी बता रही है, लेकिन विपक्ष ने इसे नौटंकी करार दिया है।

2019 के लोकसभा चुनाव करीब हैं इसलिए भाजपा मतदाताओं को भ्रमित करने के लिए यह सब कर रही है।
राजपाल कश्यप, सपा नेता

दूसरा चरण एक बार फिर योगी आदित्यनाथ सरकार में निवेशकों की आस्था को साबित करेगा।
शलभ मणि त्रिपाठी, प्रवक्ता भाजपा

जनता भारतीय जनता पार्टी की वायदा खिलाफी और नौटंकी से ऊब चुकी है। पूर्व में संपन्न हुई ग्राउण्ड ब्रेङ्क्षकग सेरेमनी का निष्कर्ष क्या निकला?
मुकेश सिंह चौहान, कांग्रेस नेता

About Editor

Check Also

salestax

संपत्ति का ब्योरा दिया तो खुल जाएगी पोल?

सरकार के आदेश के बाद भी वाणिज्यकर अधिकारी नहीं बता रहे संपत्ति का ब्योरा  अधिकारियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>