Home / अंतरराष्ट्रीय / उत्तर प्रदेश / जिलों में तैनात नोडल अधिकारी नियमित प्राप्त करें फीडबैक : मुख्यमंत्री

जिलों में तैनात नोडल अधिकारी नियमित प्राप्त करें फीडबैक : मुख्यमंत्री

नोडल अधिकारियों मे सुझावों पर तत्काल निर्णय लेते हुए की जाए जरूरी कार्यवाही : योगी
कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए हर स्तर पर सतर्क व सावधान रहना आवश्यक

अनलॉक-2 के दौरान संचालित विभिन्न गतिविधियों में संक्रमण से सुरक्षा सम्बंधी प्रोटोकॉल का कड़ाई से हो पालन

जनपद गाजियाबाद तथा बागपत में सर्विलांस टीम की संख्या में की जाए वृद्धि अधिक से अधिक टेस्टिंग के उद्देश्य से रैपिड एंटीजन टेस्ट को दिया जाए बढ़ावा

प्रशिक्षित मेडिकल टीम तैयार करने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम किए जाएं संचालित खाद्यान्न वितरण अभियान की समस्त गतिविधियों की नियमित मॉनिटरिंग करें जिलाधिकारी

आकाशीय बिजली से हुई जनहानि को न्यूनतम करने के लिए शीघ्र तैयार करें कार्ययोजना

लखनऊ। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलों में तैनात नोडलअधिकारियों से नियमित फीडबैक प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि इन अधिकारियों से कोविड तथा नॉन कोविड अस्पतालों के सम्बंध में फीडबैक लिया जाए। नोडल अधिकारियों के सुझावों पर तत्काल निर्णय लेते हुए जरूरी कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए हर स्तर पर सतर्क व सावधान रहना आवश्यक है। अनलॉक-2 के दौरान संचालित विभिन्न गतिविधियों में संक्रमण से सुरक्षा सम्बंधी प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन कराया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि लोग दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी के नियम का पालन करें। सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए लोगों को प्रेरित व प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कोरोना के संक्रमण से बचाव के सम्बंध में जनता को जागरूक करने के लिए प्रचार-प्रसार की कार्यवाही को जारी रखने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि पुलिस द्वारा प्रभावी पेट्रोलिंग का कार्य जारी रखा जाए। कहीं भी पब्लिक गैदरिंग न हो। कंटेनमेंट जोन में पूरी सख्ती बरती जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कंटेनमेंट जोन में लोगों को आवश्यक सामग्री की उपलब्धता में कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े। उन्होंने समस्त सरकारी एवं निजी संस्थाओं में कोविड हेल्प डेस्क के सुचारू संचालन पर भी बल दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद गाजियाबाद में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ बनाने के विशेष प्रयास करते हुए कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। उन्होंने गाजियाबाद में स्वास्थ्य विभाग तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को कैम्प करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने तथा मृत्यु की दर को कम करने में सर्विलांस टीम की बड़ी भूमिका है। उन्होंने सर्विलांस टीम द्वारा पूरी सक्रियता से सर्विलांस का कार्य किए जाने पर बल देते हुए कहा कि समय पर मरीज को अस्पताल पहुंचाने से इलाज करके रोगी की जान बचाई जा सकती है।

उन्होंने जनपद गाजियाबाद तथा बागपत में सर्विलांस टीम की संख्या में वृद्धि करने के निर्देश दिए। योगी ने कहा कि अधिक से अधिक टेस्टिंग के उद्देश्य से रैपिड एंटीजन टेस्ट को बढ़ावा दिया जाए। प्रशिक्षित मेडिकल टीम तैयार करने के लिए प्रशिक्षण कार्य क्रम संचालित किए जाएं। आशा वर्कर, भूतपूर्व सैनिक, चिकित्सा सेवा से जुड़े सेवानिवृत्त लोगों आदि को प्रशिक्षित करते हुए इनका सहयोग लिया जाए। सीएम ने कहा कि 5 जुलाई से प्रारम्भ होने वाले खाद्यान्न वितरण अभियान को सुचारू ढंग से संचालित करने के लिए सभी प्रबंध समय से पूरे कर लिए जाएं। यह सुनिश्चित किया जाए कि खाद्यान्न वितरण कार्य में कहीं भी घटतौली अथवा अन्य कोई अनियमितता न होने पाए। जिलाधिकारियों द्वारा अभियान की समस्त गतिविधियों की नियमित मॉनिटरिंग की जाए।

उन्होंने आकाशीय बिजली से होने वाली जनहानि को न्यूनतम करने के लिए शीघ्र एक कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश भी दिए। इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव आरके तिवारी,  औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टंडन, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास तथा पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृष देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

About Editor

Check Also

WhatsApp Image 2020-07-24 at 12.09.55

कोरोना : 2021 की पहली तिमाही तक आ सकती है वैक्सीन और दवा

वैक्सिन कितने समय तक सुरक्षा देगी, बूस्टर डोज क्या होगा, तय नहीं मुकम्मल दवा के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>